सफलता के सूत्र- सफलता प्राप्त करने के 16 अविश्वसनीय सूत्र

सफलता के सूत्र हमेशा वो नहीं होते जो हमे बताए या सिखाए जाते है, सफलता के सूत्र जीवन की मेहनत ओर सफलता पर आधारित होते है। सफलता का कोई निश्चित मापदंड नहीं होता यह हर एक के लिए अलग अलग हो सकती है पर फिर भी सरल और साधारण शब्दों में और आज के दौर के  हिसाब से कहें तो अपने पैरों पर खड़े हो जाना ,अच्छा कॅरियर बना लेना, धन समृद्धि होना, प्रसिद्धि मिल जाना ही सफलता है।

हर एक व्यक्ति के लिए सफलता के मायने अलग हो सकते हैं। क्या पता आप जहाँ  पर अपने आप  को सफल मान रहे है दूसरे किसी व्यक्ति के लिए वह सफलता  ना हो लेकिन एक सच्चाई यह भी है कि अगर आप संतुष्ट हैं और अपने आपको एक सफल व्यक्ति मानते हैं तो वाकई आप एक सफल व्यक्ति हैं।

सफलता के सूत्र
Photo by Nina Uhlíková on Pexels.com

सफलताएँ छोटी हों चाहे बड़ी हर एक इंसान के जीवन में एक अहम् भूमिका निभाती हैं। हर रोज़ भी तो हम न जाने कितने छोटे छोटे कामो में सफल होते हैं और ये कुछ कदम होते हैं जो हमारे हौसले को ओर मज़बूत करते जाते हैं और सफल होने की एक आदत और  बुनियाद बनाते हैं। 

सफलता व्यक्ति के जीवन में ज़रूरी क्यों ?

आप टाइटल पढ़ के सोच रहे होंगे की ये कैसा सवाल  है या क्या ये भी कोई सोचने वाली बात है ! तो जी हां !क्यूंकि जो व्यक्ति इसका मनन और चिंतन नहीं करता वह कभी असाधारण नहीं कर पाता या सफल नहीं हो पाता। आपके पास एक बहुमूल्य जीवन है इसका हर पल आपके लिए कीमती है और जीवन का सदुपयोग आप तभी कर पाएंगे जब आप समझ ले की आपको किस दिशा में जाना है।

यहाँ आपके पास दो ऑप्शन्स हैं या तो बस ऐसे ही जीते जाइये बिना किसी मकसद के एक साधारण ज़िन्दगी और या फिर पहचानिये आप किस क्षेत्र में सफल है और अपने आपको सफल बनाइये। क्यूंकि अपने आप को सफल आप तभी मान सकते है जब आप वास्तव में हों क्यूंकि अपने  आप से तो आप झूठ नहीं बोल सकते हैं। और इसी पर निर्भर करता है आपका व्यक्तित्व, आपकी पहचान, प्रसिद्धि सब कुछ।

सफलता मिलना या सफल होना न केवल इसलिए कि आपके पास सारी luxuries हो और आप वैसी ज़िन्दगी जी सके जैसी आप चाहते हैं बल्कि आपके आत्मविश्वास, सुकून और अपना जीवन सार्थक होने  का भाव  लाने के लिए भी ज़रूरी है।  सबको खुश करने से पहले खुद को खुश रखना और खुद का सम्मान करना, अपने आप पर गर्व करना ये एक खुशहाल व्यक्तित्व के लिए बेहद ज़रूरी है और ये आपके अंदर तभी आ सकती हैं जब आप खुद को एक सफल व्यक्ति के रूप में देखते हों। 

सफलता कैसे प्राप्त करें?

अपने पास्ट को भूल जाइये

सफलता के सूत्र मे ये पहला ऐसा सूत्र है जो हर किसी को प्रभावित करता है। हम अक्सर अपने भूतकाल को साथ लेकर जीते रहते हैं और स्पेशली जब हम कोई स्टार्ट अप या किसी चीज़ की शुरुआत करने जाते हैं तब पास्ट हमारे सामने आता है। हमारे failures, rejections, downfalls सब कुछ याद आने लगता है।  इन सबसे डिमोटिवेट ना होके इनसे कुछ सीखने की ज़रुरत होती है। बस इनसे जो सीख आपको लेनी चाहिए वो सीख लेकर भूल जाइये क्यूंकि आपके पास जीने के लिए वर्तमान है और बनाने के लिए भविष्य।

Hindi Motivational Video on Success

दूसरो में कमियां ढूंढ़ना बंद कीजिये

सफलता के सूत्र मे ये दूसरा ऐसा कारक है जो हमे आवश्यक ढंग से छोड़ देना चाहिए। कुछ लोग केवल दूसरोँ में कमियां ढूंढते रहते हैं अपने दिल पर हाथ रखिये और खुद से पूछिए की आप के अंदर कितनी कमियां और नेगेटिविटी है। दूसरों के अवगुण नहीं गुण देखिये और उन आत्मसात करने की कोशिश कीजिये। दूसरो  नेगेटिविटी ही देखेंगे तो आप खुद कब नेगेटिव हो जाओगे ये आपको भी पता  नहीं चलेगा।

अच्छा इंसान बनिये

चाहे आप कहीं भी हैं, किसी भी फील्ड से जुड़े है, सबसे पहले एक अच्छा इंसान बनिये।  समय पड़ने पर दूसरो की सहायता करे, दयावान बने। अपने माता -पिता की अच्छी संतान बने, एक अच्छा पार्टनर बने, एक अच्छा पडोसी बने, एक अच्छा नागरिक बनें।

बलिदान करने के लिए तैयार रहे

सफलता पाने के लिए आपको कई बलिदान करने पड़ते हैं। अगर आप जीवन में सफल होना चाहते हैं तो आपको ये छोटे छोटे बलिदान करने के लिए हमेशा तैयार रहना होगा। आपको आज ही से नेगेटिविटी, आलस, बुरी आदतें, बुरे लोगों का साथ,असंयमित दिनचर्या जैसी कई चीज़ो को त्यागना पड़ेगा। कुछ बड़ा हासिल करने के लिए कुछ खोना ही पड़ता है और अगर ये गंदी आदतें खोनी हो तो इसमें कोई बड़ी बात नहीं ये तो आपको वैसे भी गर्त में ले जाती हैं तो क्यों न छोड़कर अपने आप को सफल बनने की सीढ़ी में एक कदम ओर आगे ले जाया जाए।

एक सही दिशा

किसी भी काम को करने के दो रास्ते होते हैं -एक तो आप केवल भाग्य के भरोसे रहकर चलते जाए ,जहाँ  आपको आपका भाग्य लेकर जाए लेकिन इसमें सभी लोग सफल नहीं आते इसलिए सबसे पहले आपका सही दिशा में जाना ज़रूरी है। अगर अपने दिशा ही गलत चुन आपको आने वाले सभी रास्ते गलत ही मिलेंगे और मंज़िल का तो सवाल ही नहीं है। इसलिए शुरुआत सही कीजिये, कदम सही दिशा में बढ़ाइए।

लक्ष्य के प्रति जूनून

आपके अंदर अपने लक्ष्य को पाने जुनून होना ज़रूरी है  सोते, बैठते, उठते याद रहे। आपके अंदर ऐसी लग्न चाहिए की ये नहीं तो कुछ नहीं। अपना हर पल आप उसे पूरा करने में लगा दीजिये और फिर देखिये आप अपनी मंज़िल कितने करीब पाते हैं।

प्रयास करते रहें जब तक कि सफल ना हो जाए

चींटी के प्रयास और कभी गिव अप न करने वाले attitude से तो सब  वाकिफ है वह जब तक प्रयास करती है जब तक की सफल ना हो जाए। और जब कुछ mm से भी छोटी चींटी में इतना साहस और अपनी मंज़िल को पाने का इतना जुनून है तो फिर इंसानो में क्यों न हो। 

शुरुआत से ही never give up के स्ट्रांग इमोशन के साथ चलिए ,चाहे जितनी बार भी आप असफल हो प्रयास करते रहे और यकीन मानिये जितना आप खुद को तपाओगे उतना ही निखर के निकलोगे ,सफलता उतनी ही शानदार होगी।

बहाने मत बनाये

हमने अपने आस -पास ऐसे बहुत से उदाहरण देखे होंगे जिनमे लोगों के पास पर्याप्त रिसोर्सेज हुए भी वो वह कर वह कर गुज़रते  हैं जो सारे संसाधन रखने वाला व्यक्ति भी नहीं कर पाता।

अपने ज़रूर सुना होगा -”  जहाँ चाह वहां राह ” बहुत सारे सेलेब्रिटीस को देख लीजिये या बड़े बड़े बिजनेसमैन, खेल जगत से सम्बन्ध रखने वाले व्यक्ति हो या हमारे समाज में कुछ ऊँचे ओहदों पर पहुंचने वाले लोग; ये सब के सब ऐसे नहीं हैं जिन्हे पपर्याप्त साधन भी मिले हों बावजूद इसके उन्हें पूरा देश जानता है। 

अपने आप से ईमानदार रहें

अपने आप से ईमानदार रहना बहुत महत्त्वपूर्ण है। आपको जीवन में कई बार ऐसी सिचुएशन का सामना करना होगा जो आपको गलत और अवैध करने पर मजबूर करने की कोशिश करेगी और यहीं पर आपकी असली परीक्षा होती है। इन सभी हालतों में भी खुद से ईमानदार रहें और उसका साहस और  सामना करें।

विश्वास करना सीखें

अगर आप सफल  व्यक्ति बनना चाहते हैं तो आपको अपने सफर में कुछ व्यक्तियों पर भरोसा करना ही होगा, ये पूरी तरह आप पर निर्भर है पर अगर आप ऐसा नहीं करते हैं तो आप अवसर गवां  भी सकते हैं।

अपने समय का सदुपयोग करे

जीवन का चाहे कोई भी पड़ाव रह हो, स्टूडेंट लाइफ से लेकर ओर जीवन पर्यन्त हम सुनते हैं कि समय का सदुपयोग करना चाहिए जो ऐसा करता है वो कभी भी लाइफ में बेकार नहीं रहता। समय के महत्व को समझिये। इसे व्यर्थ मत जाने दीजिये। अच्छे  कामो और अच्छे  लोगों  को अपना समय दीजिये।  

अपनी ताकत पहचानें

हर इंसान के अंदर एक अद्भुत शक्ति होती है बस उसे खुद को पहचानने की ज़रुरत है। इंसान ऊर्जा का वह भण्डार है जो अगर वह समझ जाए तो दुनिया पलट सकता है।

हमेशा सीखते रहें

हमेशा सीखते रहने की भावना रखें।  आप चाहे अपने क्षेत्र में  कितने भी बड़े बन जाए ,कितने भी निखार जाएँ पर एक सुधार की आवश्यकता हमेशा रहती है। हर क्षेत्र में रोज़ नए नए आविष्कार होते रहते हैं जिनका आप अंदाजा भी नहीं लगा सकते। इसलिए खुद को अपडेट रखने की कोशिश कीजिये क्यूंकि हर रोज़ सीखते रहना ही सफल लोगों की पहचान होती है।      

अपने नेगेटिव और पॉजिटिव दोनों को identify करे

एक सफल व्यक्ति बनने के लिए अपने नेगेटिव और पॉजिटिव पॉइंट्स को जानना बेहद ज़रूरी है।  कहाँ पर आप फॉल कर सकते हैं और  कैसे आप overcome कर सकते हैं। अपनी strengths और weaknesses से आपको अवेयर होना चाहिए।  सकारात्मक विचारों की शक्ति को पहचाने एवं आगे बढ़े।

रिस्क टेकिंग एबिलिटी को डेवेलप करें

सफल व्यक्ति बनने के लिए आपको रिस्क्स तो लेने ही होंगे क्यूंकि जब तक रिस्क नहीं लोगे सफलता हाथ नहीं लगेगी।  हो सकता है आपका decision  कभी गलत भी हो लेकिन आपको कर के तो देखना ही होगा। 

सत्य का साथ दें

किसी भी तरह के झूठ से बचें-कभी भी झूठ बोलकर अपने आप को महान बनाने की कोशिश न करे। झूठ बोलने की आदत आपको लम्बे समय के लिये अन्धकार में डाल सकती है। एक झूठ को छुपाने के लिए आपको १०० झूठ  बोलने पड़ेंगे और आपको हमेशा एक डर में जीना पड़ेगा। इसलिए सच बोलने की आदत डालिये और खुलकर रहिये।   

टैग्स: सफलता के सूत्र, सफलता कैसे प्राप्त करे, सफल कैसे बने, सफलता

Read More:

कर्म के 12 नियम हिन्दी मे जानिए ! कर्म क्या है और कर्म कैसे करे?

5 Life Success Tips in Hindi- 5 सक्सेस टिप्स इन हिन्दी

Self-Motivation Tips in Hindi- How to Develop Self-Motivation in Hindi

Affirmation in Hindi- How to Utilize Positive Affirmation?

The Law of vibration in Hindi- How does it work in Real Life?

1 Comment

Leave a Reply